वित्त मंत्री हमेशा बजट घोषणा के दिन संसद में ब्रीफ़केस लेकर क्यों जाते हैं ?

0
28

 

बजट घोषणा के दिन वित्त मंत्री अपने ब्रीफ़केस के साथ तस्वीर खिंचवाते हैं। बजट की घोषणा के दिन संसद में ब्रीफकेस लेकर जाने के पीछे भी ऐतिहासिक कारन है। ये बस एक सामन्य सी बात नहीं है बल्कि ये एक ऐसी परंपरा है जो सालों से चली आ रही है। प्रथा कुछ अजीब सी ज़रूर लगती होगी लेकिन मान्यता है की ब्रीफ़केस में रखे कागज़ात आने वाले वर्षों में देश की आर्थिक प्रगति के भविष्य को निर्देशित करते हैं। दरअसल 18वीं सदी में ब्रिटेन के बजट प्रमुख को वार्षिक बयान पेश करते हुए ‘बजट खोलने’ के लिए कहा गया था।

और तब ब्रिटिश बजट प्रमुख विलियम इ ग्लैडस्टोन ने बजट पेश करने के लिए रानी की मुहर लगी लाल ब्रीफ़केस को खोला था जिसमें वो सभी दस्तावेज़ ले जाते थे। और एक नए अंदाज़ में उन्होंने बजट पर भाषण देने से पहले नंबर 11 डाउनटाउन सेंट के सामने पोज़ किया था। बस फिर क्या था बजट के भाषण को देने से पहले ब्रीफ़केस के साथ पोज़ करने की प्रथा शुरू हो गई जो आज तक चल रही है। वैसे भारत में इस प्रथा की शुरुआत आज़ाद भारत के पहले बजट भाषण के साथ वित्त मंत्री आरके शनमुखम चेट्टी से शुरू हुई। आप आने वाले बजट से क्या उम्मीद रखते हैं ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here