कैसे बदली महात्मा गांधी की ज़िन्दगी ?

0
282

देश के पिता महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 में पोरबंदर में हुआ था। गांधी ने भारत की आज़ादी के लिए कई त्याग किये जिसकी वजह से आज हम सभी आज़ाद भारत में अपनी ज़िन्दगी व्यतीत कर रहे हैं। महात्मा गांधी के बचपन पर श्रवण और महाराजा हरिश्चंद्र की कहानियों का बहुत बड़ा प्रभाव पड़ा था। गांधी शर्मीले किसम के बच्चे थे जिसके कारण उन्हें कभी भी खेल में कोई रूचि नहीं हुई लेकिन उनकी खेल में रूचि की कमी को उनके साहित्य के प्रति प्रेम ने संतुलित किया था।

महात्मा गांधी के जीवन में कई तरह के उतार चढ़ाव आए थे। 13 साल की उम्र में उनकी शादी कस्तूरबाई माखंजी से हुआ था। जब गांधी लंदन विश्वविद्यालय में कानून का अध्ययन करने और बैरिस्टर के रूप में ट्रैंनिंग करने गए थे जहाँ ट्रैन में हुई बदसलुकी ने उन्हें अंग्रेजों के खिलाफ लड़ने के लिए प्रेरित किया। जिसके बाद महात्मा गांधी ने आज़ादी के लिए कई अहम कदम उठाए सत्याग्रह आंदोलन , दांडी मार्च , भारत छोड़ो आंदोलन उनके इन्ही क़दमों में से है। भारत की आज़ादी एक कीमत के साथ मिली 1947 में भारत पकिस्तान के विभाजन के बाद कई युद्ध हहुए और आज़ादी के बाद साल 1948 में नत्थूराम गोडसे ने महात्मा गंदी की हत्या कर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here