क्यों पड़ा जयपुर के किले का नाम नाहरगढ़

0
170

जयपुर के मशहूर ‘नाहरगढ़’ फोर्ट जो के अरावली पर्वत माला पर बना हुआ है। इसके बारे में तो आप सभी ने सुना होगा। आमिर खान की फिल्म “रंग दे बसंती” के एक गाने “मस्ती की पाठशाला ” में भी इस किले के हिस्से को शूट किया गया है। कहते है आमेर की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए राजा जय सिंह (२ ) ने सन 17 34 में बनाया था।

यहाँ के बारे में कहा जाता था कोई नहर सिंह नाम के राजपूत की प्रेतात्मा यहाँ भटका करती थी। उसके बाद तांत्रिको से सलाह ली गई और किले का नाम नाहरगढ़ रखने से वो प्रेत आत्मा दूर हो गई।

नाहरगढ़ का किला सुदर्शनगढ़ नाम से भी प्रसिद्ध है। यहाँ के राजा सवाई राम सिंह की 9 रानियों के लिए अलग -अलग आवास खंड बनाए गए थे जो के बेहद सुंदर है। यहाँ चंद्रप्रकाश विला है जो के दो मंज़िला है गर्मियों के मौसम में पहली मंज़िल में और शर्दी के मौसम में निचले में रनिया यहाँ रहा करती थी।

यह महल अपने आप में कला का जीता बेहद सुंदर नमूना है। यहाँ हर अपार्टमेंट 2 मंज़िला है। पहली मंज़िल पर रानी के महलो से जुड़ा एक गलियारा है जो के 9 महलो से जुड़ा हुआ है। पहली मंज़िल में २ कक्ष मौजूद है। पहले २ कमरों में दासियाँ निवास करती थी और बिच के कक्ष में रानी।

यहाँ चंद्रप्रकाश विला है जो के दो मंज़िला है गर्मियों के मौसम में पहली मंज़िल में और शर्दी के मौसम में निचले में रनिया यहाँ रहा करती थी। यह महल अपने आप में कला का जीता बेहद सुंदर नमूना है। यहाँ हर अपार्टमेंट 2 मंज़िला है। पहली मंज़िल पर रानी के महलो से जुड़ा एक गलियारा है जो के 9 महलो से जुड़ा हुआ है।

पहली मंज़िल में २ कक्ष मौजूद है। पहले २ कमरों में दासियाँ निवास करती थी और बिच के कक्ष में रानी। उनके लिए खुटियो से बंधा एक बहुत बड़ा पर्दा हुआ करता था जिससे हिला कर दासियाँ रानी को हवा दिया करती थी।

गर्मियों में महल को ठंडा रखने के लिए खस -खस की टाटिया लगाई जाती थी और दासियाँ उस पर पानी फेका करती थी। ताकि कमरे के अंदर ठंडी हवा जा सके।

दोस्तों आशा करते है आपको जयपुर एक इस खूबसूरत किले के बारे में जान कर अच्छा लगा होगा। आप जब भी जयपुर जाए इस किले को देख कर ज़रूर आए। ये किला और इस किले से दिखने वाला नज़ारा इतना ज़्यादा खूबसूरत है की उसे लेख में बताना भी मुश्किल लगता है। आप यदि नाहरगढ़ जा चुके है तो अपना एक्सपीरियंस ज़रूर बताए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here