लोकल बनाम ब्रांडेड सर्विस सेंटर

0
216

 

रफ़्तार के इस एपिसोड में हम आपको बता रहे हैं की लोकल सर्विस सेंटर और ब्रांडेड सर्विस सेंटर में क्या अंतर है। अपनी कार की लम्बी लाइफ के लिए उसकी रेगुलर सर्विसिंग बहुत ज़रूरी होती है , रेगुलर सर्विसिंग की वजह से न सिर्फ आपकी कार बेहतर प्रदर्शन देती है बल्कि लम्बे समय तक आपका साथ निभाती है। लेकिन कई बार हम अपने कार की सर्विसिंग को ले कर परेशां हो जाते हैं और थोड़े से पैसे बचने की वजह से कुछ गलत फैसले भी ले लेते हैं।

गाड़ी की बेहतर परफॉरमेंस और लाइफ के लिए ये बहुत ज़रूरी है की आप अपने गाड़ी की सर्विसिंग ब्रांडेड सर्विस सेंटर में करवाएं क्यूंकि इन सर्विस सेंटर्स में ट्रेनड मेचानिक्स मौजूद होता हैं। इन सर्विस सेंटर्स में उचित उपकरण का इस्तेमाल किया जाता है, ब्रांडेड सर्विस सेंटर में सर्विसिंग के वजह से आपकी रेसले वैल्यू भी बढ़ जाती है। इसके अलावा इन सर्विस सेंटर में काम करने वाले कर्मचारी गाडी में लगी लेटेस्ट टेक्नोलॉजी को भी जानते और समझते हैं। कई बार कुछ पैसे बचने के लिए हम अपनी गाडी की सर्विसिंग लोकल स्रर्विसे सेण्टर में करवा लेते हैं और अपनी गाडी की परफॉरमेंस और लाइफ दोनों के साथ ही खिलवाड़ कर बैठते हैं।

लोकल सर्विस सेंटर के कर्मचारी आपकी गाडी की सर्विसिंग सस्ते में तो करते हैं लेकिन इस बात की न तो गैरेंटी होती है और न ही वार्रन्टी की आपकी गाडी कितने समय तक टिकेगी। गाड़ियों में लगे नए टेक्नोलॉजी के बारे में न पता होने पर भी उनसे गलतियां हो सकती है। इसके अलावा उनके पास सही उपकरण न होने की वजह से वो आपकी गाड़ी की मेंटेनन्स को भी नुक्सान पहुंचा सकते हैं। और इसलिए ये बहुत ज़रूरी है की आप हमेशा अपनी गाडी के लिए ब्रांडेड सर्विस सेंटर ही जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here