एड्स को लेकर 5 गलत धारणाए

0
1665

एच आईवी / एड्स से बहुत से लोग इससे डरते है। डरना जाइज़ भी है। लेकिन डर के साथ साथ बहुत सी गलतफहमियां भी इस बीमारी के साथ है जुड़ी। एड्स को लेकर लोगो में ढेर सारी गलत धारणाए है। दोस्तों आज हम कुछ गलतफहमियों को दूर करने का प्रयास करेंगे।

मच्छर से एड्स फैलता है :
बहुत सी लोगो की ये धारणा है की मच्छर के काटने पर एड्स हो सकता है। लेकिन बतादे जब कोई कीड़ा आपको काटता है तो उस व्यक्ति के वाइरस वो आप के शरीर में नहीं डाल सकता। तो दोस्तों मच्छर आपको कई बिमारी दे सकता है लेकिन एड्स उनमे से नहीं।

एड्स सिर्फ एक से अधिक व्यक्ति से साथ संभोग से होता है :
यह एक बहुत बड़ा मिथ्य है। सदियों से लोगो को लगता है की, अगर कोई व्यक्ति एड्स से पीड़ित है तो उसने ज़रूर कई गलत काम किये होंगे। या वैश्यवृति में लिप्त होंगे। दोस्तों एड्स होने का ये मतलब नहीं की उसने अधिक व्यक्ति के साथ सेक्स किया है। रक्तदान, जन्म या आपके साथी (यदि उन्हें एड्स है ) से भी आपको इन्फेक्शन हो सकता है।

यदि दोनों साथी को एड्स है तो प्रोटेक्शन की ज़रुरत नहीं :
बहुतो को ये भी लगता है की अगर दोनों ही एड्स है तो कंडोम की क्या आवशयकता । आपको बतादे यदि ऐसा करते है तो आपको फिर से इन्फेक्शन हो सकता है। या किसी अन्य प्रकार का वायरस आपके शरीर में जगह बना लेगा।

किस करने से भी एड्स हो सकता है :
दोस्तों चुम्बन से एड्स नहीं हो सकता। भूतो को लगता है किसिंग के समय थूक से एड्स फ़ैल सकता है। लेकिन ये मिथ्य है। खून,वीर्य ,योनि या गुदा द्रव्य और स्तन के दूध इसके फैलने के कारण है।

यदि एड्स है तो बच्चे नहीं हो सकते :
आपको बतादे यदि दोनों साथी को भी एड्स है तब भी आप फॅमिली प्लानिंग कर सकते है। अपने मेडिकल सलाहकार की साहयता से बच्चे को वायरस मुक्त इस दुनिया में ला सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here